Advertisement

महाराष्ट्र में क्रेन हादसा: सीएम शिंदे की घोषणा, मृतकों के परिवारों को मिलेगी 5 लाख रुपये की सहायता राशि

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में समृद्धि एक्सप्रेसवे निर्माण के तीसरे चरण के दौरान एक क्रेन के मंगलवार को...
महाराष्ट्र में क्रेन हादसा: सीएम शिंदे की घोषणा, मृतकों के परिवारों को मिलेगी 5 लाख रुपये की सहायता राशि

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में समृद्धि एक्सप्रेसवे निर्माण के तीसरे चरण के दौरान एक क्रेन के मंगलवार को पुल के एक स्लैब (पट्टी) पर गिर जाने से बड़ा हादसा हो गया। इस दुर्घटना पर दुख जताते हुए सीएम एकनाथ शिंदे ने प्रत्येक मृतक के परिवार के लिए 5 लाख रुपये की सहायता राशि की घोषणा की।

एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को हुए इस हादसे में 17 श्रमिकों की मौत हो गई और तीन घायल हो गए। एनडीआरएफ के एक अधिकारी ने कहा, "अभी भी कुछ लोगों के फंसे होने की आशंका है और उन्हें बचाने के प्रयास जारी हैं।"

उन्होंने बताया कि घायलों का इलाज ठाणे के कलवा स्थित छत्रपति शिवाजी महाराज अस्पताल में किया जा रहा है। सीएम शिंदे ने प्रत्येक मृतक के परिवार को 5 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। उन्होंने एक ट्वीट में कहा, सरकार घायल व्यक्तियों के इलाज का खर्च वहन करेगी।

मुख्यमंत्री शिंदे ने कहा, "मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। यहां स्विट्जरलैंड की एक कंपनी काम कर रही थी। इसकी गहन जांच के निर्देश दिये गये हैं। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच गई हैं और बचाव कार्य के निर्देश दिए हैं। हमारे संबंधित विभाग के अधिकारी और मंत्री मौके पर मौजूद हैं।''

उन्होंने बताया कि यह हादसा समृद्धि महामार्ग के तीसरे चरण के काम के दौरान हुआ। समृद्धि महामार्ग, जिसका नाम हिंदू हृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे महाराष्ट्र समृद्धि महामार्ग है, मुंबई और नागपुर को जोड़ने वाला 701 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेसवे है।

वहीं, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी हादसे पर शोक जताया। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा, "यह हादसा दुर्भाग्यपूर्ण है। ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। घटना की विशेषज्ञों से जांच कराने के आदेश भी दे दिये गए हैं।

<blockquote class="twitter-tweet"><p lang="mr" dir="ltr">शहापूर तालुक्यात समृद्धी महामार्गावर पुलाचे काम सुरू असताना एक दुर्घटना होऊन काही मजुरांचा मृत्यू झाल्याची घटना अतिशय दुःखद आणि मनाला वेदना देणारी आहे. मी त्यांना भावपूर्ण श्रद्धांजली अर्पण करतो. त्यांच्या कुटुंबियांच्या दुःखात आम्ही सहभागी आहोत.<br>या घटनेत 3 कामगार जखमी झाले.…</p>&mdash; Devendra Fadnavis (@Dev_Fadnavis) <a href="https://twitter.com/Dev_Fadnavis/status/1686213807251816449?ref_src=twsrc%5Etfw">August 1, 2023</a></blockquote> <script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>



यह नागपुर, वाशिम, वर्धा, अहमदनगर, बुलढाणा, औरंगाबाद, अमरावती, जालना, नासिक और ठाणे सहित 10 जिलों से होकर गुजरती है। समृद्धि महामार्ग का निर्माण कार्य महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास निगम द्वारा किया जा रहा है। नागपुर को मंदिर शहर शिरडी से जोड़ने वाले पहले चरण का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिसंबर 2022 में किया था। बता दें कि यह 520 किमी की दूरी तय करता है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र सीएम शिंदे और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने 26 मई को इगतपुरी तालुका के भारवीर गांव से शिरडी तक समृद्धि महामार्ग के 80 किमी लंबे दूसरे चरण का उद्घाटन किया था। शिंदे ने मई में कहा था कि तीसरा और आखिरी चरण इस साल दिसंबर के अंत तक पूरा हो जाएगा।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से