Advertisement

विधानसभा चुनाव: पांच राज्यों के एग्जिट पोल के बाद सियासी उठापठक जारी, सबको 'अपनी-अपनी' जीत की उम्मीद

देश के पांच राज्यों (मिजोरम, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना) में विधानसभा चुनाव हेतु...
विधानसभा चुनाव: पांच राज्यों के एग्जिट पोल के बाद सियासी उठापठक जारी, सबको 'अपनी-अपनी' जीत की उम्मीद

देश के पांच राज्यों (मिजोरम, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना) में विधानसभा चुनाव हेतु वोटिंग पूरी होने के बाद अब इंतज़ार परिणाम का है। तीन दिसंबर को वोटों की गिनती और परिणाम से पहले राजनीतिक बहस छिड़ी हुई है। हर पार्टी का मानना है कि उन्हीं की सरकार बनने वाली है। 

केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा, "अशोक गहलोत का काम जादू करना है। हमने उनके (कांग्रेस) भ्रष्टाचार को उजागर किया और चुनाव लड़ा, इसलिए निश्चित रूप से बीजेपी सत्ता में आने वाली है। क्योंकि लोगों ने कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का मन बना लिया है।"

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा, ''राजस्थान में कांग्रेस के पक्ष में वोटिंग हुई है। नतीजे चौंकाने वाले होंगे क्योंकि कांग्रेस हमारी उम्मीद से कहीं ज्यादा सीटें जीतेगी। जनता जीत का फैसला करती है। लोगों ने हमारी सरकार के काम और हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं की कड़ी मेहनत का समर्थन किया है।"

राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा, ''बीजेपी और पीएम मोदी के प्रति लोगों का विश्वास देखा है। मैंने हजारों पार्टी कार्यकर्ताओं की मेहनत भी देखी है और उसके आधार पर मैं कह सकता हूं कि बीजेपी 135 सीटों के साथ राजस्थान में सरकार बनाएगी।"

एग्जिट पोल पर राजस्थान के नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी विधायक राजेंद्र राठौड़ ने कहा, "कांग्रेस को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ रहा है। कांग्रेस शक्तिहीन हो जाएगी। उनके सारे दावे झूठे साबित होंगे। बीजेपी सरकार बनाएगी। गोविंद डोटासरा बिल्कुल सही हैं, नतीजे चौंकाने वाले होंगे क्योंकि उनके समेत कई लोगों का सूपड़ा साफ होने वाला है। लोग कांग्रेस से तंग आ चुके थे और अपने वोट की ताकत का इस्तेमाल कर कांग्रेस को उखाड़ फेंकने के लिए उत्सुक थे।"

छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम और बीजेपी नेता रमन सिंह ने कहा, ''छत्तीसगढ़ की स्थिति में एक बात साफ है, कांग्रेस और उनकी मौजूदा स्थिति। 3-4 एग्जिट पोल में उनकी संख्या 69 से 42 तक दिखाई गई है यानी वहां पर कांग्रेस के वोटों में बड़ी गिरावट। दूसरी तरफ बीजेपी की सीटें 15 से बढ़कर 46 हो गई हैं, जो कि छत्तीसगढ़ में बीजेपी की तेज बढ़त को दर्शाता है। यह साफ हो गया है कि कांग्रेस की सरकार जा रही है और बीजेपी भारी बहुमत के साथ छत्तीसगढ़ में सरकार बनाने जा रही है।"

छत्तीसगढ़ के उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता टीएस सिंह देव ने कहा, ''असली वोट शेयर सीट शेयरिंग में नहीं दिखता। जहां तक आरोपों की बात है तो गंदी राजनीति शुरू हो गई है। महादेव ऐप में भी आप देख सकते हैं, चुनाव से पहले कहा गया था कि 508 करोड़ रुपये बरामद हुए। वोटर परिपक्व हो गए हैं। लोग इसे राजनीतिक मानते हैं। इसलिए इसका कोई असर नहीं हुआ।"

उन्होंने कहा, "पिछले पांच साल में ढाई-ढाई साल को लेकर हमारा अनुभव अच्छा नहीं रहा। हमने सर्वसम्मति से फैसला किया कि आलाकमान जो तय करेगा वही होगा। हम अटकलें नहीं चाहते, क्योंकि इससे रिश्तों में भी तनाव पैदा होता है। इसलिए हमने इसे आलाकमान पर छोड़ने का फैसला किया है।

राज्य विधानसभा चुनाव पर बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा, ''बीजेपी मध्य प्रदेश में सरकार बनाने जा रही है। दूसरे राज्यों में भी हम सरकार बनाने जा रहे हैं। कांग्रेस कभी भी आसानी से नहीं जीत सकते। उनकी साजिशें काम नहीं कर रही हैं।।भाजपा (सत्ता में) आने वाली है।"

उत्तर प्रदेश के मंत्री दानिश आजाद अंसारी ने कहा, ''3 दिसंबर को जब 5 राज्यों के चुनाव नतीजे आएंगे तो आप देखेंगे कि लोगों की सोच और विश्वास बीजेपी के साथ है। जिस तरह से पीएम मोदी ने सभी क्षेत्रों का विकास सुनिश्चित किया है। आम लोगों को बीजेपी और मोदी सरकार पर पूरा भरोसा है।"

एग्जिट पोल पर कांग्रेस नेता अजॉय कुमार ने कहा, "हम तेलंगाना में सरकार बनाएंगे, और हमें राजस्थान से भी उम्मीद है। हमें मध्य प्रदेश में अनुकूल स्थिति का संकेत देने वाली रिपोर्ट मिली हैं। छत्तीसगढ़ में हमारी जीत निश्चित है। 3 दिसंबर को सबकुछ फाइनल हो जाएगा। (सीएम) गहलोत को भरोसा है कि हम वहां सरकार बनाएंगे। बीआरएस लोग कांग्रेस में शामिल होने के लिए उत्सुक हैं।"

बता दें कि 07 नवंबर को मिज़ोरम में सभी सीटों पर और छत्तीसगढ़ में पहले चरण की वोटिंग हुई। इसके बाद 17 नवंबर को मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ (फेज II) के लिए मतदान हुआ। 25 नवंबर को राजस्थान जबकि 30 नवंबर को तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए भी वोटिंग संपन्न हो गई। अब नतीजे 3 दिसंबर को आएंगे। 

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से