Advertisement

संजय राउत का पीएम मोदी पर कटाक्ष, "इतिहास और जनता फैसला करेगी कि कौन युगपुरुष और महापुरुष है"

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के महात्मा गांधी को ‘महापुरुष’ और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को...
संजय राउत का पीएम मोदी पर कटाक्ष,

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के महात्मा गांधी को ‘महापुरुष’ और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ‘युगपुरुष’ कहकर संबोधित करने के एक दिन बाद शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत ने कहा कि इसका फैसला इतिहास और जनता करेगी। राउत ने मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि महात्मा गांधी को दुनिया पूजती है। राउत ने कहा, ‘‘इतिहास, जनता ये फैसला करेगी कि कौन पुरुष, युगपुरुष और महापुरुष है।’’

धनखड़ ने सोमवार को कहा था, ‘‘महात्मा गांधी ने सत्याग्रह और अहिंसा के माध्यम से अंग्रेजों की गुलामी से हमें मुक्त कराया। भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हमें उस राह पर ले गये हैं जहां हम हमेशा से जाना चाहते थे।’’ धनखड़ ने जैन संप्रदाय के रहस्यवादी और दार्शनिक श्रीमद राजचंद्रजी की जयंती समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘मैं आपको एक बात बताना चाहता हूं कि पिछली सदी के महापुरुष महात्मा गांधी थे। नरेन्द्र मोदी इस सदी के युगपुरुष हैं।’’

इससे कुछ दिन पहले संजय राउत अपने बयानों के कारण विवादों में फंस चुके हैं। शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) सांसद संजय राउत ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ (पूर्व में ट्विटर) पर इजरायल को लेकर एक ट्वीट किया था जिससे हंगामा शुरू हो गया और बाद राउत को पोस्ट डिलीट करनी पड़ी थी। इजराइल-हमास के बीच जारी युद्ध के बीच, राउत ने कहा कि इजराइल दूतावास ने उनके पुराने पोस्ट के बाद एक पत्र भेजा है और हो सकता है कि किसी ने उन्हें (दूतावास के लोगों को) उनका (राउत का) विरोध करने के लिए कहा हो। राउत के उस पोस्ट को सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ से हटा दिया गया है।

राज्यसभा सदस्य ने संबंधित पोस्ट का जिक्र करते हुए शनिवार को कहा, ‘‘इजराइल के बारे में मेरा वह पोस्ट पुराना था। इसमें हिटलर का जिक्र किया गया था, लेकिन इजराइल की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का मेरा कोई इरादा नहीं था। मैंने वह पोस्ट भी हटा दिया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमास ने जिस तरह इजराइल पर हमला शुरू किया, मैंने उसकी भी आलोचना की थी।’’ गाजा स्थित अस्पतालों पर हुए हमलों का जिक्र करते हुए, राउत ने कहा कि बच्चों को युद्ध से दूर रखा जाना चाहिए।

 

 

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से
Advertisement
Advertisement
Advertisement