Advertisement

पेट्रोल के शतक के बाद अब दूध के दाम में भी उछाल, दिल्ली वालों पर महंगाई की चौतरफा मार

कोरोना महामारी से मुकाबला कर रहे दिल्ली के लोग अब महंगाई की मार से भी परेशान हैं। एलपीजी गैस सिलेंडर से...
पेट्रोल के शतक के बाद अब दूध के दाम में भी उछाल, दिल्ली वालों पर महंगाई की चौतरफा मार

कोरोना महामारी से मुकाबला कर रहे दिल्ली के लोग अब महंगाई की मार से भी परेशान हैं। एलपीजी गैस सिलेंडर से लेकर दूध, सीएनजी, पेट्रोल-डीजल, सरसो का तेल तक सबकुछ पहले की तुलना में महंगा हो गया है। इसका सीधा प्रभाव आम आदमी की जेब पर पड़ रहा है। इस बीच अब शनिवार को दिल्ली और एनसीआर के लोगों को मदर डेयरी ने भी झटका दिया। आज मदर डेयरी ने भी दूध के दामों में वृद्धि की घोषणा की। 11 जुलाई से मदर डेयरी के दूध रुपये महंगे हो गए हैं। इससे पहले करीब 1.5 साल पहले मदर डेयरी ने अपनी कीमतों में इजाफा किया था। 

इस वृध्दि के बाद दिल्ली एनसीआर में एक लीटर फुल क्रीम मिल्क अब 55 रुपये के बजाय 57 रुपये में मिलेगा। इसी प्रकार टोंड मिल्क की कीमत 45 रुपये से बढ़कर 47 रुपये प्रति लीटर हो गई है। 

एक व्यक्ति ने बताया, "दूध भी महंगा हो गया, पेट्रोल भी महंगा है और कमाई वहीं की वहीं है। कोरोना के बाद से काम भी कम है।" बता दें कि दिल्ली में पेट्रोल 100.91 रुपये प्रति लीटर के भाव में बिक रहा है। डीजल भी 89.88 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है।


बता दें कि इस माह की पहली तारीख को अमूल ने भी दूध की कीमतों में दो रुपये का इजाफा किया था। कीमतों में बढ़ोतरी के वक्त अमूल की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि इसके अलावा पैकेजिंग की लागत में 30 से 40 प्रतिशत, परिवहन लागत में 30 प्रतिशत और ऊर्जा लागत में 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, जिसके चलते उत्पादन लागत बढ़ गई है। बता दें पनीर, मक्‍खन, घी,  चीज, लस्‍सी, आइसक्रीम और छाछ के अलावा चाय, कॉफी, मिठाइयां और चॉकलेट के दामों में भी वृध्दि हो सकती है। 

 

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से