Advertisement

संगीत शिक्षा, व्यवसाय और करियर को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाना मकसद; क्रांतिकारी बदलाव के लिए दस्तक देने को तैयार 'मुज़िकऑन'

संगीत से जुड़े व्यवसाय और व्यवस्था को पूरी तरह से बदलने के लिए एक म्यूज़िकटेक कंपनी 'मुज़िकऑन' जोरदार...
संगीत शिक्षा, व्यवसाय और करियर को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाना मकसद; क्रांतिकारी बदलाव के लिए दस्तक देने को तैयार 'मुज़िकऑन'

संगीत से जुड़े व्यवसाय और व्यवस्था को पूरी तरह से बदलने के लिए एक म्यूज़िकटेक कंपनी 'मुज़िकऑन' जोरदार तरीके दस्तक देने को तैयार है। अत्याधुनिक तकनीक का लाभ उठाते हुए यह प्लेटफ़ॉर्म बिचौलियों को खत्म करते हुए संगीत उद्योग में सुरक्षित लेनदेन सुनिश्चित करेगा। नतीजतन उसकी कीमतें काफी प्रतिस्पर्धी हो जाएंगी। इसके लिए कंपनी 'मुज़िकॉइन टोकन' भी पेश करने वाली है।

कंपनी के लक्ष्य और प्रयासों पर गौर करें तो इसकी मौजूदगी से संगीत उद्योग में क्रांतिकारी बदलाव आने वाले हैं। ब्लॉकचेन तकनीक को अपनाकर मुज़िकऑन संगीतकारों के बीच पहुंच, पारदर्शिता और सहयोग बढ़ाने में अग्रणी भूमिका निभाने वाली है। कंपनी ग्लोबल बैंड/संगीत प्रतियोगिताओं के माध्यम से प्रतिभाओं की खोज करेगी और स्थानीय प्रतिभाओं को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने में मदद करेगी।

सीधे तौर पर यह महत्वाकांक्षी संगीतकारों, गायकों के लिए दुनिया भर में परफॉर्म करने और करियर की नई ऊंचाइयों के द्वार खोलने जा रही है। इसके जरिये संगीत कार्यक्रमों के आयोजन, दर्शकों और कलाकारों के बीच संवाद, सहयोग और कनेक्शन में भी मदद मिलेगी। टिकट बिक्री और कलाकारों का पेमेंट ब्लॉकचेन के माध्यम से होगा, सिस्टम में पूरी निष्पक्षता और पारदर्शिता मिलेगी।

कंपनी के फाउंडर और डायरेक्टर अमित सिन्हा कहते हैं- "हमारा लक्ष्य ब्लॉकचेन तकनीक की शक्ति का उपयोग करके संगीत उद्योग में क्रांति लाना है। इसके साथ ही प्रसिद्ध अंतरराष्ट्रीय संगीत वाद्ययंत्र ब्रांड 'मुज़िकऑन' की स्थापना करना है, जो उच्च स्तरीय पीतल, ताल और स्ट्रिंग संगीत वाद्ययंत्र तैयार करने के लिए समर्पित है। इन वाद्ययंत्रों को कुशल कारीगरों द्वारा सावधानीपूर्वक डिजाइन किया जाता है। बकौल अमित सिन्हा, मुज़िकऑन एक ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां सभी स्तरों के संगीतकार एक साथ जुड़ सकेंगे, सीख सकेंगे और आगे बढ़ सकेंगे। यह भौगोलिक बाधाओं को तोड़कर सभी के लिए समान अवसर सुनिश्चित कराएगी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से