Advertisement

ब्रह्मोस सुपरसोनिक मिसाइल का सफल परीक्षण, सतह से सतह पर मार करने की है क्षमता

भारत ने आज अंडमान और निकोबार में सतह से सतह पर मार करने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल...
ब्रह्मोस सुपरसोनिक मिसाइल का सफल परीक्षण, सतह से सतह पर मार करने की है क्षमता

भारत ने आज अंडमान और निकोबार में सतह से सतह पर मार करने वाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया है। रक्षा मंत्रालय के अधिकारी ने जानकारी दी कि विस्तारित दूरी की इस मिसाइल ने सटीक सटीकता के साथ अपने लक्ष्य को भेदा है।

भारत ने बुधवार को रक्षा मंत्रालय में एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक,  ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया। मिसाइल का सफल परीक्षण अंडमान और निकोबार में किया गया। इस मिसाइल परीक्षण को देखने के लिए एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी और अन्य रक्षा अधिकारी मौजूद थे।

अधिकारियों ने बताया है कि ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के इस सफल परीक्षण को लेकर एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने शुभकामनाएं दी हैं।

जानें इस मिसाइल के बारे में

ब्रह्मोस मिसाइल को रूस के सहयोग से विकसित किया गया है। ये आवाज की गति से तीन गुना यानी 2.8 मैक की रफ्तार से उड़ती है। ये रडार को भी चकमा दे सकती है। पहले इसकी रेंज 290 किमी थी, जिसे बढ़ाकर 350-400 किया गया था। अब इसके 800 किमी वाले वेरिएंट पर काम किया जा रहा है। ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल के एयर वर्जन का पिछले साल 8 दिसंबर को सुखोई 30एमकेआई से सफल टेस्ट किया गया था। अब इन्हें दूसरे लड़ाकू विमानों पर भी तैनात करने की योजना है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से
Advertisement
Advertisement
Advertisement