Advertisement

मंदिर के मायने: राम मंदिर का चुनावी नफा और नुकसान

रामायण के विभिन्न पात्रों का जो विशिष्ट सामाजिक-कथात्मक आधार है, यही भाजपा को आगामी चुनावों में...
मंदिर के मायने: राम मंदिर का चुनावी नफा और नुकसान

रामायण के विभिन्न पात्रों का जो विशिष्ट सामाजिक-कथात्मक आधार है, यही भाजपा को आगामी चुनावों में लाभांश देगा

अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह देश के लिए महत्वपूर्ण सांस्कृतिक और धार्मिक पल है। इसके कई निहितार्थ हो सकते हैं। सबसे पहला तो यही कि यह मंदिर महत्वपूर्ण तीर्थस्थल के रूप में उभरेगा, जो भारत और विदेश में हिंदू समुदाय पर स्थायी सांस्कृतिक और सभ्यतागत प्रभाव डालने वाला होगा। दूसरा, विभिन्न धार्मिक आस्थाओं से जुड़े लोगों के लिए यह प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में विकसित हो सकता है। तीसरा, यह दुनिया भर के हिंदुओं के लिए गौरव का प्रतीक बनकर उभर सकता है। गौरव के इस एहसास का प्रभाव लोगों को संगठित या लामबंद करने के लिए भी हो सकता है जिसका आने वाले वर्षों में सामाजिक और राजनीतिक प्रभाव दिखने की संभावना है।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से