Advertisement

पिछले पांच वर्षों के दौरान संगठित क्षेत्र में सिर्फ 12.2 लाख नई नौकरियों का सृजन हुआ: मल्लिकार्जुन खड़गे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को ‘यथास्थान झुग्गी-झोपड़ी पुनर्वास परियोजना’ के तहत...
पिछले पांच वर्षों के दौरान संगठित क्षेत्र में सिर्फ 12.2 लाख नई नौकरियों का सृजन हुआ: मल्लिकार्जुन खड़गे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को ‘यथास्थान झुग्गी-झोपड़ी पुनर्वास परियोजना’ के तहत राजधानी दिल्ली की उन लाभार्थी महिलाओं के प्रति आभार जताया जिन्होंने उन्हें पत्र लिखकर मकान मिलने की अपनी खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि केद्र सरकार गरीबों के कल्याण के लिए इसी तरह प्रतिबद्ध होकर काम करती रहेगी।

मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘दिल्ली के कालकाजी की उन माताओं और बहनों के पत्र पाकर अभिभूत हूं, जिन्हें ‘जहां झुग्गी, वहीं मकान’ योजना के तहत पक्के घर मिले हैं।’’ प्रधानमंत्री ने इस ट्वीट के साथ चेतना, कुसुम लता, रेशमा और दंपत्ति काकोली व संजय मैत्रा की ओर से लिखे गए पत्र भी साझा किए। उन्होंने बताया कि विदेश मंत्री एस जयशंकर जब वहां गए तो महिलाओं ने ये पत्र उन्हें सौंपे, जिनमें उन्होंने अपनी खुशी जाहिर की है।

मोदी ने कहा, ‘‘वे बताती हैं कि कैसे इस योजना के जरिए उनका अपने मकान का वर्षों पुराना सपना साकार हुआ है और पूरे परिवार का जीवन आसान हुआ है। पत्रों के लिए आप सभी का बहुत-बहुत आभार! हमारी सरकार गरीबों के कल्याण के लिए इसी तरह प्रतिबद्ध होकर काम करती रहेगी।’’

पत्र में लाभार्थियों ने मकान मिलने के साथ साथ मुफ्त में कोविड-19 रोधी टीके मुहैया कराने के लिए भी प्रधानमंत्री मोदी का आभार जताया है।

प्रधानमंत्री ने नवंबर 2022 में झुग्गी-झोपड़ी वासियों के पुनर्वास के लिए दिल्ली के कालकाजी में ‘यथास्थान झुग्गी-झोपड़ी पुनर्वास परियोजना’ के अंतर्गत बनाए गए 3024 नवनिर्मित फ्लैटों का उद्घाटन किया था। उन्होंने भूमिहीन कैंप के पात्र लाभार्थियों को फ्लैटों की चाबियां सौंपी थी।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से