Advertisement

171 रनों की तूफानी पारी की बदौलत हरमनप्रीत ने कई दिग्गजों को पछाड़ा

हरमनप्रीत कौर की 115 गेदों में 171 रनों की आतिशी पारी की बदौलत टीम इंडिया ने छह बार की विजेता और डिफेंडिगं चैंपियन ऑस्‍ट्रेलिया को हराकर आईसीसी महिला वर्ल्‍ड कप के फाइनल में 12 साल बाद जगह बना ली है। फाइनल में उसका मुकाबला रविवार को लार्ड्स में घरेलू टीम इंग्लैंड से होगा।
171 रनों की तूफानी पारी की बदौलत हरमनप्रीत ने कई दिग्गजों को पछाड़ा

भारत दूसरी बार विश्व कप के फाइनल में पहुंचा है। इससे पहले वह 2005 में दक्षिण अफ्रीका में खेले गये टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा था जहां उसे आस्ट्रेलिया के हाथों हार झेलनी पड़ी थी। भारतीय टीम ने इस तरह से उस हार के अलावा मौजूदा टूर्नामेंट के लीग मैच में अपने इस प्रतिद्वंद्वी से मिली हार का भी बदला चुकता कर लिया।  42 ओवर के इस मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 282 रनों का लक्ष्य रखा जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 40.1 ओवर 245 रनों पर ढेर हो गई। भारत ने 36 रनों से बाजी मार ली।

हरमनप्रीत कौर और 19 वर्षीय ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा ने चौथे विकेट के लिए 137 रन जोड़े। दीप्ति शर्मा ने इस शतकीय साझेदारी के दौरान 25 रन बनाए। ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ हरमनप्रीत ने 12 चौके और दो छक्के की मदद से महज 90 गेंदों में शतक ठोका। 171 रनों की रिकॉर्ड पारी के लिए हरमनप्रीत कौर को ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया. इस पारी के साथ ही उन्होंने वनडे क्रिकेट में कई रिकार्ड अपने नाम कर लिए।

 

#8 मार्च 1989 को पंजाब के मोगा में जन्मीं हरमनप्रीत का ये तीसरा वनडे शतक है. इसके अलावा विदेशी जमीन पर ये उनका पहला शतक है। हरमनप्रीत ने अपना पहला वनडे 2009 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था।

 

#कौर की नाबाद 171 रनों की पारी किसी भी वर्ल्ड कप में दुनिया की किसी भी बल्लेबाजी द्वारा खेली गई चौथी सबसे बड़ी पारी है। महिला विश्व कप में सबसे बड़ा स्कोर ऑस्ट्रेलिया की ब्लैंडा क्लार्क के नाम है, जिन्होंने 1997 विश्व कप में 229 रनों की पारी खेली थी। यह वनडे अंतरराष्ट्रीय में पहली डबल सेंचुरी भी थी।

 

#कौर ने अपनी नाबाद 171 रनों की पारी में 20 चौके और 7 बेहतरीन छक्के जड़े। इस तरह से चौके-छक्कों की मदद से कौर ने कुल 122 रन बनाए। जो कि उनके कुल रन (171) का 71.3 फीसदी है।

 

#हरमनप्रीत कौर ने नाबाद 171 रनों की पारी में कुल 7 छक्के ठोके। इसके साथ ही कौर ने भारत की तरफ से किसी भी वनडे मैच की एक पारी में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड बनाया। कौर से पहले ये रिकॉर्ड एमडी थिरुसकामिनी के नाम था जिन्होंने अपनी पारी में 4 छक्के जड़े थे।

 

#महिला वर्ल्ड कप में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा शतक मारने के मामले में हरमनप्रीत कौर पहले स्थान पर पहुंच गई हैं। कौर ने 18 मैच खेलते हुए दो शतक ठोके हैं जबकि कप्तान मिताली राज दूसरे स्थान पर हैं। राज 30 मैच खेलकर दो शतक मारने में कामयाब हुई हैं।

 

#भारत की तरफ से वर्ल्ड कप मैच में सबसे ज्यादा व्यक्तिगत रन बनाने के मामले में भी हरमनप्रीत पहले स्थान पर पहुंच गई हैं। पहले यह रिकॉर्ड भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज (109) के नाम था।

 

#इसके साथ ही यह महिला वनडे क्रिकेट में पांचवां सबसे बड़ा निजी स्‍कोर भी है। भारत की ओर से सबसे बड़ा निजी स्‍कोर दीप्ति शर्मा के नाम है जिन्होंने इसी साल ऑयरलैंड के खिलाफ 188 रनों की पारी खेली थी।

 

#महिला वर्ल्ड कप में भारत की तरफ से सबसे ज्यादा शतक मारने के मामले में हरमनप्रीत कौर पहले स्थान पर पहुंच गई हैं। कौर 18 मैच खेलते हुए दो शतक ठोके हैं जबकि कप्तान मिताली राज दूसरे स्थान पर हैं। राज 30 मैच खेलकर दो शतक मारने में कामयाब हुई हैं।

 

#आईसीसी महिला वर्ल्ड कप के नॉक आउट स्टेज में सबसे ज्यादा व्यक्तिगत रन बनाने के मामले में हरमनप्रीत पहले स्थान पर पहुंच गई हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के कारें रोल्टोन के नाम था। साल 2005 के महिला वर्ल्ड कप के फाइनल में रोल्टोन ने भारत के खिलाफ 107 बनाकर यह रिकॉर्ड कायम किया था।

 

#171 रन की पारी के साथ हरमनप्रीत वर्ल्डकप में नॉकआउट स्टेज में सबसे बड़ी पारी खेलने वाली भारतीय क्रिकेटर बन गई हैं। इससे पहले रोहित शर्मा ने 2015 के वर्ल्डकप में बांग्लादेश के खिलाफ 137 रन की पारी खेली थी।

 

#हरमन पहली भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्होंने बिग बैश लीग के लिए ऑस्ट्रेलिया के सिडनी थंडर के साथ जुलाई 2016 में कॉन्ट्रैक्ट साइन किया। हरमनप्रीत सिडनी थंडर्स की वुमन बिग बैश लीग प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट रही थीं।

 

 

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से