Advertisement
8 जनवरी 2023 · JAN 08 , 2024

क्रिकेटः दौलत बड़ी या लॉयल्टी!

हार्दिक पंड्या के मुंबई इंडियंस में जाने पर बहस छिड़ी कि पैसे के लिए नई टीम में जाना कितना सही
हार्दिक पंड्या

आइपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के अगले सीजन के लिए हार्दिक पंड्या हॉट टॉपिक बन गए हैं। पिछले सीजन तक गुजरात की अगुआई करने वाले हार्दिक को मुंबई इंडियंस ने कप्तान घोषित कर दिया। सो, सोशल मीडिया भी सक्रिय हुआ और हार्दिक को छपरी, धोखेबाज, दौलत पसंद खिलाड़ी का तमगा दे दिया। असल सवाल है कि क्रिकेट में पैसा बड़ा या लॉयल्टी। ट्रेडिंग विंडो क्या है?

यह एक खिलाड़ी के दूसरी टीम में ट्रांसफर होने का मार्ग है। ट्रेडिंग तब होती है, जब कोई खिलाड़ी इस विंडो के दौरान उस आइपीएल फ्रेंचाइजी से चला जाता है जिसने उसे खरीदा है।

आइपीएल के नियमों के अनुसार, खिलाड़ी ट्रेडिंग विंडो एक सीजन समाप्त होने के एक महीने बाद शुरू होती है। यह नीलामी की तारीख से एक सप्ताह पहले तक खुली रहती है  और फिर अगले सीजन की शुरुआत से एक महीने पहले तक खुली रहती है। शुरुआत में किसी को विश्वास नहीं हुआ था कि हार्दिक वाकई गुजरात की कप्तानी छोड़ मुंबई इंडियंस में वापसी कर सकते हैं। मगर एक तरफा और नकद लेन देन में, 30 वर्षीय ऑलराउंडर आधिकारिक तौर पर उस फ्रेंचाइजी में लौट आए, जिसके साथ उन्होंने चार खिताब जीते थे। मुंबई ने पैसे जुटाने के लिए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ एक और नकद लेन देन किया, जिसमें कैमरून ग्रीन (लीग मूल्य 17.5 करोड़ रुपये) का सफल ट्रेड शामिल था। आइपीएल 2024 के लिए रिलीज और रिटेंशन के आखिरी दिन रविवार (26 नवंबर) को सौदे पर हस्ताक्षर किए गए। गौरतलब है कि हार्दिक की साल की लीग फीस 15 करोड़ रुपये है। मुंबई ने हार्दिक को रोहित शर्मा की जगह कप्तान भी बना दिया। रोहित ने दस साल कप्तानी करते हुए मुंबई को पांच आइपीएल खिताब जिताए।

हार्दिक 2022 से पहले मुंबई इंडियंस ने उन्हें अपनी टीम में रिटेन नहीं किया। यह बड़े झटके के रूप में आया था। मगर गुजरात की नई टीम ने गुजराती लड़के पर भरोसा जताया। हार्दिक का प्रमोशन 11 करोड़ रुपये से 15 करोड़ रुपये के लिए हुआ और वे गुजरात टाइटंस (जीटी) के कप्तान बन गए। हार्दिक और आशीष नेहरा (कोच) की जोड़ी अच्छी रही। इस पार्टनरशिप ने गुजरात में अपने पहले ही सीजन में ट्रॉफी जीतकर दिखा दिया। हार्दिक ने बतौर कप्तान और हरफनमौला खिलाड़ी, अपने ऊपर उठे हर सवाल का जवाब दिया। हार्दिक ने 2022 संस्करण में 15 मैचों में नंबर 3 या 4 पर अधिकांश बल्लेबाजी की और करीब 487 रन बनाए। उस साल आइपीएल में हार्दिक ने136.76 की स्ट्राइक रेट से 346 रन बनाए। उसमें हार्दिक ने गेंद से आठ विकेट भी चटकाए थे, जो आंकड़ा इस बार गिरकर तीन तक रह गया। खैर, जीटी को पहले ही सीजन में खिताब जिताने में हार्दिक का रोल सबसे अहम रहा।

हार्दिक पंड्या

आइपीएल 2022 में क्रिकेट जगत ने उनमें एक लीडर का जन्म होते देखा। नतीजतन हार्दिक टीम इंडिया के टी 20 के कप्तान बना दिए गए। 2023 में भी गुजरात फाइनल तक पहुंची थी। लगातार दो सीजन, इतना बेहतरीन प्रदर्शन काफी था कि हार्दिक को वनडे की भी उप कप्तानी मिल गई। उन्हें फिलहाल टीम इंडिया के अगले कप्तान के रूप में देखा जाता है। घरेलू क्रिकेट के 2013-14 सीजन में बड़ौदा को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले हार्दिक पर सबसे पहली नजर मुंबई इंडियंस की पड़ी थी। मुंबई ने हार्दिक को केवल 10 लाख रुपये की फीस में टीम का हिस्सा बना लिया। टीम ने हार्दिक को 2015 में बहुत मौके दिए। हार्दिक ने इस साल मुंबई को आइपीएल खिताब दिलाने में महत्वपूर्ण रोल अदा किया था।

गुजरात टीम मैनेजमेंट की तरफ से बताया गया कि हार्दिक मुंबई के साथ जाने के इच्छुक थे। इसके लिए हार्दिक सोशल मीडिया पर बुरे ट्रॉल हुए। लेकिन एक वर्ग का मानना है कि उनका निर्णय सही था। एक खिलाड़ी के पास खेलने के लिए चंद साल होते हैं। ऐसे में अपने आप को और अपने परिवार को आर्थिक रूप से सशक्त करने का अधिकार हर किसी को है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि ऐसे मामलों में लेनदेन का आंकड़ा हमेशा सामने दिखने वाले आंकड़े से अधिक होता है। बहुत मुमकिन है कि हार्दिक को बैकस्टेज अधिक रकम का वादा किया गया हो।

अमूमन देखा जाता है कि मॉडर्न डे क्रिकेट में चकाचौंध को तरजीह अधिक दी जाती है। ब्रांड के स्तर पर मुंबई इंडियंस, हर तरह से गुजरात से आगे है। ऊपर से मुकेश अंबानी की टीम का खिलाड़ी होने के भी अपने फायदे हैं। गौरतलब है कि यह ट्रेड केवल आइपीएल फीस के लिए नहीं हो सकता। इसमें ब्रांड एंडोर्समेंट, नाम, इज्जत हर फैक्टर शामिल है। आज की तारीख में आइपीएल की चेन्नै, मुंबई और बेंगलूरू टीम की ब्रांड वैल्यू सबसे अलग है। ऐसे में इन टीमों के कप्तान बनना भी अपने आप में बड़ी बात है। इसलिए भी कई क्रिकेट एक्सपर्ट्स का मानना है कि भारतीय टीम के कप्तान बने रहने की चाहत भी इस निर्णय का एक पहलू हो सकती है।

आइपीएल ट्रेड में मुंबई इंडियंस के खरीदे खिलाड़ी

शिखर धवन (सीजन 2009)  मुंबई इंडियंस ने तेज गेंदबाज आशीष नेहरा के साथ दिल्ली डेयर डेविल्स के बल्लेबाज शिखर धवन को खरीदा।

ज़हीर खान (सीजन 2009)  एमआई और आरसीबी ने रॉबिन उथप्पा और जहीर खान की अदला-बदली की। उथप्पा को आरसीबी ने खरीदा जबकि जहीर एमआइ में चले आए।

जयदेव शाह (सीजन 2009)  राजस्थान रॉयल्स के जयदेव शाह 2009 के आइपीएल संस्करण के लिए मुंबई इंडियंस में गए। यह टीम डील के कारण संभव हुआ।

दिनेश कार्तिक (सीजन 2012)  दिल्ली डेयरडेविल्स में अपने कार्यकाल के बाद, डीके 2011 में किंग्स इलेवन पंजाब में चले गए। मगर एक साल बाद ही उन्हें मुंबई में ट्रेड कर दिया गया। 

प्रज्ञान ओझा (सीजन 2012)  बाएं हाथ के स्पिनर प्रज्ञान ओझा डेक्कन चार्जर्स से मुंबई इंडियंस में गए। ओझा 2008 में पहले आइपीएल सीजन से डेक्कन चार्जर्स का हिस्सा रहे थे। 

उन्मुक्त चंद (सीजन 2015)  मुंबई इंडियंस ने उन्मुक्त चंद को राजस्थान रॉयल्स से खरीद लिया। उन्हें कुछ मौके मिले लेकिन प्रदर्शन कुछ खास अच्छा नहीं रहा।  

आर. विनय कुमार (सीजन 2015)  कोलकाता नाइट राइडर्स से मुंबई इंडियंस में आने के बाद उस सीजन विनय को काफी मुकाबले मिले। उनका प्रदर्शन ठीक ठाक रहा था।

पार्थिव पटेल (सीजन 2015)  आईपीएल 2015 से पहले, मुंबई इंडियंस ने पार्थिव पटेल को आरसीबी से खरीदा। इससे पहले टीम एक ऐसे विकेटकीपर के लिए संघर्ष कर रही थी जो लगातार रन बना सके और पार्थिव ने उनकी कमी पूरी कर दी।  

क्विंटन डि कॉक (सीजन 2019)  दक्षिण अफ्रीका के विकेट कीपर-बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक खराब फॉर्म के बाद 2.8 करोड़ रुपये की नीलामी कीमत पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर(आरसीबी) से मुंबई इंडियंस (एमआई) में चले गए।

जयंत यादव (सीजन 2019)   तीन बार के चैंपियन ने दिल्ली कैपिटल्स से ऑलराउंडर जयंत यादव को ट्रेड किया। 2019 में इंडियन प्रीमियर लीग के अगले सीजन में जयंत यादव मुंबई इंडियंस के लिए खेलेंगे।

ट्रेंट बोल्ट (सीजन 2020)  मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 2020 से पहले दिल्ली कैपिटल्स से ट्रेंट बोल्ट को अपने साथ जोड़ा। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने 20 मैचों में 25 विकेट झटके और मुंबई ने आईपीएल 2020 जीत लिया। 

धवल कुलकर्णी (सीजन 2020)  मुंबई ने धवल कुलकर्णी को राजस्थान से ट्रेड में खरीदा। मुंबई के तेज गेंदबाज ने अपनी आईपीएल यात्रा मुंबई इंडियंस के साथ शुरू की और 2008से 2013 तक टीम का प्रतिनिधित्व किया।

शरफेन रदरफोर्ड (सीजन 2020)  मुंबई इंडियंस ने वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी शेरफेन रदरफोर्ड की जगह युवा स्पिनर मयंक मार्कंडेय को दिल्ली कैपिटल्स में ट्रेड किया।

जेसन बेहरनडॉर्फ (सीजन 2023)  ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जेसन बेहरनडॉर्फ रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर(आरसीबी) से ट्रेड किए जाने के बाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 2023 सीजन में मुंबई इंडियंस (एमआई) की तरफ से खेले। 

रोमारियों शेफर्ड (सीजन 2024)  प्री ऑक्शन टाटा इंडियन प्रीमियर लीग (आइपीएल) ट्रेडिंग विंडो के दौरान रोमारियो शेफर्ड को लखनऊ सुपर जाइंट्स (एलएसजी) से मुंबई इंडियंस(एमआइ) में ट्रेड कर लिया गया।