Advertisement

देश के 43 वैज्ञानिकों को आईसीएमआर पुरस्कार

स्वास्थ्य के अलग-अलग क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान के लिए देश के चुनिंदा 43 वैज्ञानिकों को आज दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के सभागार में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।
देश के 43 वैज्ञानिकों को आईसीएमआर पुरस्कार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने इन वैज्ञानिकों को प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस मौके पर आईसीएमआर की महानिदेशक और देश की जानी मानी चिकित्सक डॉ सौम्या स्वामिनाथन भी मौजूद थीं। ये पुरस्कार वर्ष 2011 और 2012 के लिए दिए गए हैं। वर्ष 2011 के लिए 19 वैज्ञानिकों को और वर्ष 2012 के लिए 24 वैज्ञानिकों को सम्मानित किया गया।

सम्मानित होने वाले वैज्ञानिकों में बायोकेमिकल साइंस में डॉ. संगीता मुखोपाध्याय, डॉ. रोशन बेहराम कोलाह, प्रोफेसर अनिल कुमार, डॉ. कंजियाम रेखा देवी, प्रो. एन.के. मेहरा, डॉ. शीतल चावला और डॉ. सैयद ई हसनैन शामिल हैं।

इस मौके पर सभी वैज्ञानिकों को सम्मानित करने के बाद स्वास्थ्य मंत्री डॉ जगत प्रकाश नड्डा ने लोगों को संबोधित किया। उन्होंने देश के स्वास्थ्य क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए इन वैज्ञानिकों को बधाई देने के साथ आईसीएमआर की भी तारीफ की और साथ ही कहा कि आईसीएमआर को शोध के क्षेत्र में कुछ चुनिंदा क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। आईसीएमआर की महानिदेशक डॉ. सौम्या स्वामिनाथन ने इस अवसर पर कहा कि स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े इन वैज्ञानिकों ने उत्कृष्ट काम किया है और इसमें महिलाएं पुरुषों से पीछे नहीं हैं। समारोह में एम्स के निदेशक डॉ. एम सी मिश्रा भी मौजूद थे।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से
Advertisement
Advertisement
Advertisement