Advertisement

Search Result : "Lifetime Achievement"

क्रिकेट: भारत ने 21 साल में पूरा कर दिया 300 के स्कोर का सैकड़ा, जानें कैसे मिली ये उपलब्धि

क्रिकेट: भारत ने 21 साल में पूरा कर दिया 300 के स्कोर का सैकड़ा, जानें कैसे मिली ये उपलब्धि

एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण के बाद लगभग 21 वर्ष तक भारतीय टीम एक पारी में 300 रन के स्कोर...
मोदी सरकार के सत्ता में आते ही इसरो को लगे पंख, ये हैं 3 साल की 5 बड़ी उपलब्धियां

मोदी सरकार के सत्ता में आते ही इसरो को लगे पंख, ये हैं 3 साल की 5 बड़ी उपलब्धियां

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने सोमवार शाम ठीक 5:28 बजे जीएसएलवी मार्क-3 रॉकेट लॉन्च कर इतिहास रच दिया है। पूरी तरह देश में बने सबसे भारी रॉकेट के लांच के साथ ही इसरो और मोदी सरकार के खाते में एक और बड़ी उपलब्धि जुड़ गई है। पिछले तीन सालों में इसरो की सफलता की कहानी उल्लेखनीय रही है!
मुंबई दंगों के दौरान एक परिवार को बचाया था गावस्कर ने

मुंबई दंगों के दौरान एक परिवार को बचाया था गावस्कर ने

वेस्टइंडीज के तूफानी गेंदबाजों का दृढ़ता से सामना करने की पहचान बनाने वाले महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने 1993 में मुंबई हमलों के दौरान साहस दिखाते हुए एक परिवार को बचाया था। गावस्कर के बेटे रोहन ने कल रात मुंबई खेल पत्रकार संघ (एसजेएएम) के स्वर्ण जयंती लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार से अपने पिता को सम्मानित किए जाने के दौरान यह घटना याद की।
अमिताव घोष को मुंबई में मिला लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार

अमिताव घोष को मुंबई में मिला लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार

अंग्रेजी के मशहूर भारतीय लेखक अमिताव घोष को मुंबई साहित्य उत्सव के टाटा लिटरेचर लाइव में लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 11 जुलाई,1956 को कोलकाता में जन्में और उम्र छह दशक पूरा करने वाले अमिताव घोष को न केवल इससे पूर्व विदेश में प्रिक्स मेडीसिस इंट्रांजर, आर्थर सी. क्लार्क अवार्ड से नवाजे गए, बल्कि उन्हें देश का प्रतिष्ठित पद्म श्री सम्मान भी प्राप्त हुआ है।
जिन्‍होंने देश काे लूटा, उनके अच्‍छे दिन नहीं: मोदी

जिन्‍होंने देश काे लूटा, उनके अच्‍छे दिन नहीं: मोदी

अपने एक साल के काम का हिसाब देते हुए नरेंद्र मोदी ने काहा कि जिन्‍होंने देश को लूटा है, जिनके बुरे दिन आए हैं, वही हल्ला कर रहे हैं। उनकी सरकार ने 365 दिनों में इतने काम किए हैं कि गिनाने जाएं तो 365 घंटे भी कम पड़ जाएंगे।
Advertisement
Advertisement
Advertisement