Advertisement
मैगज़ीन डिटेल

आवरण कथा/कैंसर विजयः कैंसर से बड़ा जीवन

कैंसर महारोग है पर जिंदगी से बड़ा नहीं, हमारे आसपास के तमाम जाने-अनजाने लोग हर रोज इसे साबित कर रहे हैं। समय भी बदल चुका है। रोग की शुरुआती पहचान और उपचार की तकनीक सुलभ होते जाने के साथ कैंसर का सामाजिक हौवा कम होता जा रहा है। मानवीय हौसले की चकमक कहानियां उम्मीद जगा रही हैं

मणिपुर: अपने हिस्से की धरती की लड़ाई

मणिपुर में कुकी-मैती हिंसा के पीछे पहाड़ और मैदान के वासियों के बीच ब्रिटिशकालीन विभाजन है, जिसे ताजा घटनाओं ने और गहरा कर दिया

छत्तीसगढ़: बघेल की चुनौतियां

सिंहदेव को उप-मुख्यमंत्री बनाए जाने से बदला सियासी माहौल

पंजाब: साड्डा हक, परे हट

पंजाब में सवा साल पुरानी आम आदमी पार्टी की सरकार ने दो दिन का विधानसभा सत्र बुलाकर राजनीति में भूचाल ला दिया है

हरियाणा: दरकता गठबंधन

अगले चुनावों के मद्देनजर भाजपा-जजपा दोनों की अलग राह अपनाने की रणनीति

महाराष्ट्र: महा तोड़ सियासत

शिवसेना के बाद राकांपा में टूट के जरिये विपक्ष को कमजोर करने की भाजपा की रणनीति, लेकिन शरद पवार और विपक्ष भी अपनी तैयारी में

आवरण कथा/कैंसर विजयः जो लड़कर रहे विजेता

हौसले और जीजीविषा की अनूठी साहसी कहानियां

आवरण कथा/कैंसर विजय/बाकलम खुद: मौत का अब मुझे डर नहीं

मैं किस्से-कहानियों के बजाय सीटी स्कैन की उन फिल्मों को देखकर ज्यादा संतुष्ट होता हूं जिससे मुझे अपने ट्यूमर की स्थिति पता चलती है

आवरण कथा/सिनेमाई अफसाने: परदे पर पीड़ा

फिल्मों के किरदार जिस तरह कैंसर से लड़ते हैं और जीत हासिल करने के बाद पूरी ऊर्जा से सामान्य जीवन व्यतीत करते हैं, उसे देखकर करोड़ों लोगों को प्रेरणा मिलती है

बॉलीवुड/इंटरव्यू/हुमा कुरैशी: तरला का जीवन एक प्रकाश-पुंज है

प्रयोगधर्मी काम के लिए जानी जाने वाली हुमा अब शेफ तरला दलाल के जीवन पर आधारित फिल्म तरला में मुख्य भूमिका निभा रही हैं

सप्तरंग

ग्लैमर जगत की हलचल

भारत-अमेरिका: रिश्तों की शर्त और हासिल

महाशक्ति का दरजा हासिल करने की भारत की महत्वाकांक्षा में अमेरिका से प्रौद्योगिकी हस्तांतरण एक अहम उपलब्धि है, लेकिन भारत पूरी तरह से अमेरिकी खेमे में जाने से बचते हुए अपने रणनीतिक विकल्प खुले रखेगा

गीता प्रेस विवाद/ नजरिया: पुरस्कार का सियासी फलसफा

गीता प्रेस को गांधी शांति पुरस्कार से नवाजने के मोदी सरकार के फैसले पर हिंदी के लेखक जगत में हलचल

टाइटन हादसा: ले डूबा टाइटैनिक

अटलांटिक महासागर, 4000 मीटर की गहराई और 1912 में डूबे टाइटैनिक जहाज का मलबा, देखने की अमीर-उमरां की लालसा ऐसी कि हाल में पांच धनी-मानी की टाइटन पनडुब्बी के साथ हुई जल समाधि

प्रथम दृष्टि: राजनीति का बाजार

राजनीति में पाला बदलना अब शायद अवसरवाद नहीं, पेशेवर होने का संकेत माना जाने लगा है

पत्र संपादक के नाम

भारत भर से आई पाठको की चिट्ठियां

शहरनामा/राजनगर

अद्भुत खंडहरों का शहर