Advertisement
मैगज़ीन डिटेल

आवरण कथा/अयोध्या : राम राजनीति लीला

2024 के लोकसभा चुनावों के पहले अयोध्या में भव्य राम मंदिर में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा का अनुष्ठान बना सियासी मसला

हरियाणा: गठजोड़ की तोड़

मोदी की गारंटी के भरोसे प्रदेश में सभी 10 लोकसभा सीटों पर भाजपा अकेले चुनाव लडऩे को तैयार

झारखंड: कल्पना होगी साकार ?

क्या ईडी या चुनाव आयोग की कार्रवाई की सूरत में पत्नी को कुर्सी सौंप देंगे हेमंत सोरेन

मध्य प्रदेश: पटवारी पहरेदार

कांग्रेस पीढ़ी परिवर्तन से 2024 के मद्देनजर नए जोश में

छत्तीसगढ़: बघेल पर शिकंजा

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और छत्तीसगढ़ कांग्रेस के एक खास खेमे के नेताओं की परेशानी बढ़ा दी है

आवरण कथा/नजरिया: अयोध्या का संदेश क्या होगा?

क्या 2024 के आम चुनाव में भाजपा राम मंदिर निर्माण से पूरे भारत में बंपर सीटें ला पाएगी

आवरण कथा/राम मंदिर: आस्था बनाम सियासत

इस राष्ट्र-राज्य और लोकतंत्र से भी पांच गुना पुराना राम मंदिर का विवाद 22 जनवरी को हो रही प्राण-प्रतिष्ठा के बाद खत्म होगा या नए सिरे से जिंदा, यह सवाल पूरे समाज को मथ रहा है, कहीं बेचैनी और कहीं भक्ति की लहर

आवरण कथा/राम मंदिर: मंदिर की रूपरेखा

मुख्य गर्भगृह में भगवान राम का बचपन का स्वरूप (राम लला की मूर्ति) और पहली मंजिल पर राम दरबार होगा

आवरण कथा/राम मंदिर: तवारीख की बातें

राम मंदिर का भव्य मंदिर बनने और रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से पहले घटनाओं का तारीखवार ब्यौरा

आवरण कथा/राम मंदिर/ इंटरव्यू/इकबाल अंसारीः ‘‘राजनीति करने वाले बाहर से आए’’

अयोध्या में अब कोई विवाद नहीं है। सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद सब खत्म हो गया है

क्रिकेट: डॉक्टर्ड पिच का गोलमाल

आइसीसी को पिचों पर ध्यान देने की दरकार वरना एक समय आएगा, जब मैदान, पिचें, टीमें, खिलाड़ी तो होंगे लेकिन फैंस क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप टेस्ट मैच से मुंह फेर लेंगे

बॉलीवुड इंटरव्यू: "कोई भी बड़ा काम एक दिन में नहीं होता"

मैं अपने जीवन में सार्थक काम करना चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि जब कोई मुझे स्क्रीन पर देखे तो उसे मेरी अहमियत समझ आए

सप्तरंग

ग्लैमर जगत की खबरें

राजनीति: न्याय पथ के दावे और चुनौतियां

राहुल गांधी ने उत्तरायण पर अपनी दूसरी यात्रा शुरू की है, लेकिन सवाल है कि यह कवायद माहौल बनाने के लिए है या सियासत में भी कुछ बदलाव होगा

पत्र संपादक के नाम

पाठको की चिट्ठियां

शहरनामा: रतलाम

सेंव-सोने की नगरी

प्रथम दृष्टि: आस्था का प्रतीक

जहां तक मंदिर बनवाकर चुनाव जीतने का सवाल है, तो देश में हजारों मंदिर-मस्जिद-चर्च जीर्ण-शीर्ण हालत में हैं। अगर उनका पुनर्निर्माण या पुनरोद्घार करके चुनाव जीते जाते तो हर शहर में उनकी हालत वैसी नहीं होती। चुनाव आम लोगों से जुड़े मुद्दों पर ही जीते जाते हैं

स्मृति: विलंबित खयाल का माहिर

उन्होंने दिग्गज कलाकारों और रसिकों से तो वाहवाही लूटी ही, आम श्रोताओं को भी अपने जादुई गायन से चमत्कृत करते रहे

स्मृति: किराना घराने का एक पुराना चिराग

एक प्रखर और सुरीली गायिका के अलावा संगीत शास्त्र और भारतीय संस्कृति में उनका गहन अध्ययन और समझ थी